townaajtak@gmail.com

राज्य

बिहार के BJP उम्‍मीदवार जो शराब को गंगाजल बता रहे हैं

बिहार के BJP उम्‍मीदवार जो शराब को गंगाजल बता रहे हैं

बिहार की बक्सर विधानसभा सीट से बीजेपी प्रत्याशी का वायरल फोटो जमकर चर्चा में है. इस फोटो में दिखने वाले गिलास में शराब होने का दावा किया जा रहा है. सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहे इस फोटो पर बीजेपी प्रत्याशी ने कहा कि उनके खिलाफ साजिश के तहत अफवाह फैलाई जा रही है. गिलास में गंगाजल ग्रहण करता हूं, ​गिलास में दूध था. बिहार की बक्सर विधानसभा उस समय चर्चा में आई, जब बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय की इस सीट से चुनाव मैदान में उतरने की चर्चा शुरू हुई थी लेकिन इस पर अंतिम समय में टिकट बीजेपी उम्मीदवार को मिल गई. लंबे समय तक चली जद्दोजहद के बाद बीजेपी ने गुप्तेश्वर पांडेय की जगह यहां से पार्टी के किसान नेता और पूर्व में हवलदार रहे परशुराम चतुर्वेदी को टिकट थमा दिया. लेकिन टिकट के मामले में पूर्व डीजीपी पर भारी पड़ने वाले परशुराम के लिए वायरल फोटो जी का जंजाल बन गया है.इस वायरल
चुनाव के लिए नेता जी का नया रूप, पैर में लोटकर मांग रहे वोट

चुनाव के लिए नेता जी का नया रूप, पैर में लोटकर मांग रहे वोट

बिहार में इस समय चुनावी मौसम है। वोटरो को नेताओं के तरह-तरह के रंग देखने को मिल रहे हैं। कोई नामांकन भरने जाते समय ही वोटरों को लुभाने के लिए तरह-तरह की बातें कर रहा है तो कोई घर-घर जाकर पैर पकड़ रहा है।बात हो रही है बिहार विधानसभा के पूर्व उपाध्यक्ष और आरा के 73 वर्षीय भाजपा प्रत्याशी अमरेंद्र प्रताप सिंह की। आरा से चार बार विधायक रह चुके अमरेंद्र प्रताप सिंह को भाजपा ने 2015 के चुनाव में भोजपुर से टिकट दिया। वह 666 वोट से चुनाव हार गए। इस बार फिर भाजपा ने उन्हें ंमैदान में उतारा है। इस बार वह एक-एक वोट सहेजने में खुद लगे हैं। गांव-गांव जाकर लोगों के पैर पकड़ कर आर्शीवाद मांग रहे हैं। शेखपुरा जिले की बरबीघा विधानसभा के पूरनकामा गांव में दर्जी का काम करने वाले राजेंद्र प्रसाद ने भी इस बार चुनाव में पर्चा भरा है। राजेंद्र प्रसाद साइकिल से नामांकन करने पहुंचे। राजेंद्र ने कहा कि चुनाव
लालू जेल में रहें या बाहर, उनकी चुनावी ब्रांड वैल्यू शून्य : सुशील मोदी

लालू जेल में रहें या बाहर, उनकी चुनावी ब्रांड वैल्यू शून्य : सुशील मोदी

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद को चारा घोटाले से जुड़े एक मामले में जमानत मिलने के बाद बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि बिहार की राजनीति में लालू प्रसाद की ब्रांड वैल्यू जीरो हो चुकी है। मोदी ने शुक्रवार को कहा कि भ्रष्टाचार के गंभीर मामले में सजायाफ्ता लालू प्रसाद को उनकी पार्टी ऐसे प्रचारित करती है, जैसे वे स्वाधीनता संग्राम में जेल गए हों। उन्होंने एक बयान जारी कर कहा, "वे यह भी भ्रम फैलाते हैं कि यदि लालू प्रसाद चुनाव के समय जेल से बाहर होते, तो ईवीएम से जिन्न निकलता और पार्टी अच्छा प्रदर्शन करती। वे भूल गए कि 2010 के विधानसभा चुनाव में लालू प्रसाद जेल से बाहर थे और उनकी पार्टी मात्र 22 सीटों पर सिमट गई थी।" उन्होंने राजद द्वारा प्रसन्नता जताने पर तंज कसते हुए कहा, "सजा की आधी अवधि जेल में गुजारने कारण उन्हें एक मामले में जमानत मिली है। अन्य
झारखंड हाईकोर्ट ने लालू यादव को दी जमानत, क्‍या जेल से बाहर आ पाएंगे?

झारखंड हाईकोर्ट ने लालू यादव को दी जमानत, क्‍या जेल से बाहर आ पाएंगे?

बिहार चुनाव के बीच राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के लिए एक अच्छी खबर आई है। चारा घोटाले में सजा काट रहे आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को चाईबासा ट्रेजरी केस में जमानत मिल गई है। हालांकि, लालू अभी जेल से नहीं निकलेंगे, क्योंकि दुमका ट्रेजरी मामले की सुनवाई बाकी है। गौरतलब है कि लालू ने चाईबासा ट्रेजरी केस में अपनी आधी सजा पूरी कर ली है। जस्टिस अपरेश कुमार की कोर्ट ने लालू यादव को राहत दी है। लालू यादव को जेल से बाहर आने के लिए दुमका कोषागार मामले में बेल जरूरी है। अगले 9 नवंबर को दुमका मामले में लालू यादव की आधी सजा पूरी होगी।
बिहार : चुनावी शह-मात में बागियों की शरणस्थली बनी लोजपा

बिहार : चुनावी शह-मात में बागियों की शरणस्थली बनी लोजपा

बिहार विधानसभा चुनावी संग्राम में सियासत का संघर्ष बदलता नजर आ रहा है। टिकट कटने या सहयोगी दलों के हिस्से में सीट जाने के बाद बगावती तेवर अपनाए नेताओं के लिए सहारा के रूप में लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) का ठिकाना मिल रहा है, जिससे चुनावी संघर्ष रोमांचक हो गया है। केंद्र में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में शामिल लोजपा बिहार चुनाव में भले ही राजग से अलग चुनावी मैदान में हो, लेकिन बगावती तेवर अपना चुके राजग नेताओं के लिए लोजपा बिहार में शरणस्थली बनी हुई है। लोजपा में जाने वाले नेताओं को लोजपा के रूप में 'अपनों' का साथ भले ही मिला हो लेकिन राजग के नेताओं ने स्पष्ट कर दिया है कि लोजपा अब राजग में नहीं है। भाजपा की वरिष्ठ नेता उषा विद्यार्थी ने बुधवार को लोजपा का दामन थाम लिया विद्यार्थी बिहार भाजपा की उपाध्यक्ष और प्रदेश मंत्री भी रह चुकी हैं। लोजपा की सदस्यता ग्रहण करने के बाद
ओवैसी की पार्टी का RLSP से गठबंधन,  उपेंद्र कुशवाहा का दावा

ओवैसी की पार्टी का RLSP से गठबंधन, उपेंद्र कुशवाहा का दावा

बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान कई नए गठबंधन बन रहे हैं। इसी क्रम में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के साथ चुनाव मैदान में उतरे राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) के प्रमुख व पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने मंगलवार को कहा कि हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) भी जल्द ही इस गठबंधन में शामिल हो जाएगी। पटना में मंगलवार को एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कुशवाहा ने कहा, "ओवैसी जी की पार्टी से भी बात हुई है। ओवैसी जी की पार्टी भी दो-चार दिनों में इस गठबंधन में शामिल हो जाएगी।" इस गठबंधन में देवेंद्र यादव की पार्टी समाजवादी जनता दल (डेमोक्रेटिक) पहले से ही शामिल है। उन्होंने कहा कि आगे आने वाले दिनों में इन पार्टियों के नेता आपस में मिलकर गठबंधन का नाम और बाकी चीजें तय करेंगे। उन्होंने कहा कि पहले चरण के चुनाव के लिए
सुशील मोदी का सवाल-हाथरस में हंगामा करने वाले राहुल गांधी पूर्णिया पर क्‍यों चुप हैं

सुशील मोदी का सवाल-हाथरस में हंगामा करने वाले राहुल गांधी पूर्णिया पर क्‍यों चुप हैं

बिहार के पूर्णिया में राष्ट्रीय जनता दल (राजद) एससी-एसटी प्रकोष्ठ के पूर्व प्रदेश सचिव शक्ति मल्लिक की हत्या मामले में राजद नेता तेजस्वी यादव और तेजप्रताप यादव पर आरोप लगाए जाने के बाद राज्य के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी (सुमो) ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से जवाब मांगा है। मोदी ने यहां कहा कि परिवारवादी राजद ने बिना सहयोगी दलों की राय लिए, बल्कि दलितों-पिछड़ों की दो पार्टियों को अपमानित कर जिस व्यक्ति को मुख्यमंत्री का चेहरा (सीएम-फेस) बनाने की जिद पूरी की, उस 'राजकुमार' के चेहरे पर पूर्णिया के युवा दलित नेता की हत्या का आरोप लगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस और वामदल बताएं कि क्या चुनाव लड़ने का टिकट देने के बदले 50 लाख रुपये मांगने और हत्या कराने का आरोपी सीएम-फेस महागठबंधन को मंजूर है?मोदी ने आगे सवालिया लहजे में कहा कि हाथरस की दुखद घटना के बाद जातीय हिंसा भड़काने औ
बिहार : फिर बिगड़ा मांझी का मूड! 7 उम्‍मीदवारों की सूची जारी की

बिहार : फिर बिगड़ा मांझी का मूड! 7 उम्‍मीदवारों की सूची जारी की

बिहार विधानसभा चुनाव के लिए राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में शामिल हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) ने सोमवार की रात अपने सात प्रयाशियों के नामों की घोषणा कर दी। हम के प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी गया के इमामगंज से चुनाव लड़ेंगे। हम के प्रवक्ता राजेश पांडेय ने प्रत्याशियों की सूची जारी करते हुए बताया कि सोमवार को पार्टी की एक बैठक में 'हम' के हिस्से में आई सभी सात सीटों के लिए प्रत्याशियों का चयन कर लिया गया है। उन्होंने कहा कि पार्टी के अध्यक्ष मांझी और प्रधान महासचिव संतोष कुमार सुमन के निर्देश पर सूची जारी की जा रही है। उन्होंने कहा कि पार्टी के अध्यक्ष जीतन राम मांझी जहां इमामगंज से पार्टी के प्रत्याशी होंगे, वहीं बाराचट्टी से ज्योति देवी, टेकारी से अनिल कुमार तथा मखदुमपुर से देवेंद्र मांझी को प्रत्याशी बनाया गया है। इसके अलावा जमुई के सिकंदरा से प्रफुल कुमार मां
बिहार में महागठबंधन में पसंदीदा सीटों को लेकर फंसा पेंच

बिहार में महागठबंधन में पसंदीदा सीटों को लेकर फंसा पेंच

बिहार में विपक्षी दलों के महागठबंधन में सीट बंटवारे को लेकर मामला भले ही सुलझने की खबर आ रही है, लेकिन अभी भी पसंदीदा सीट को लेकर महागठबंधन में पेंच फंसा हुआ है। कांग्रेस अपनी जीती हुई सीटों के अलावा अधिकांश उन सीटों पर अपनी दावेदारी कर रही है, जिस पर पिछले चुनाव में जनता दल (युनाइटेड) जीता हुआ था या दूसरे नंबर पर था। कांग्रेस के एक नेता ने नाम नहीं प्रकाशित करने की शर्त पर कहते हैं कि कांग्रेस अपनी मनपसंद सीटें सुल्तानगंज, हिसुआ, मटिहानी, लखीसराय, सासाराम, भभुआ सहित कुछ अन्य सीटों पर लड़ना तय कर चुकी है। इधर, सूत्रों का दावा है कि राजद ऐसी सीटों को कांग्रेस को देना नहीं चाह रही है। सूत्रों का दावा है कि राजद ने कई सीटों पर अपने उम्मीदवार तक तय कर दिए हैं। सूूत्र कहते हैं कि राजद ने हिसुआ से एक अति पिछड़े और सुल्तानगंज से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से जुड़े एक वैश्य जाति के नेता को
पुष्पम प्रिया दो जगह से लड़ेंगी चुनाव, नीतीश और लालू को दी चुनौती

पुष्पम प्रिया दो जगह से लड़ेंगी चुनाव, नीतीश और लालू को दी चुनौती

अखबारों में विज्ञापन छपवाकर खुद को भावी मुख्यमंत्री बता रातोंरात सुर्खियों में आनेवाली पुष्पम प्रिया चौधरी ने खुद के बिहार विधानसभा चुनाव में उतरने का ऐलान कर दिया है। वे दो विधानसभा सीटों से चुनाव लड़ने जा रही हैं। इनमें एक पटना का बांकीपुर विधानसभा क्षेत्र है। इसकी घोषणा उन्होंने आज सोशल मीडिया के माध्यम से की है। पुष्पम ने जिस दूसरे विधानसभा सीट से लड़ने की बात कही है, उसका खुलासा अभी तक नहीं किया है। हालांकि उन्होंने इतना कहा है कि यह सीट मिथिला क्षेत्र में होगी। चौधरी ने सोशल मीडिया दी उम्मीदवारी की जानकारी चौधरी ने सोशल मीडिया पर जानकारी देते हुए लिखा कि पार्टी की पोल कमेटी की अनुशंसा पर मैं बिहार की जीवनदायिनी गंगा के दक्षिण-तट अवस्थित मगध में सम्राट चंद्रगुप्त और 'देवों के प्रिय' अशोक की प्राचीन राजधानी पुष्पपुर-पाटलिपुत्र-पटना के बांकीपुर विधानसभा क्षेत्र (182) से प्लूरल्स की
error: Content is protected !!