townaajtak@gmail.com

देश-दुनिया

SOG टीम देवरिया को मिली बड़ी सफलता, गोपालगंज का कुख्यात गिरफ्तार

SOG टीम देवरिया को मिली बड़ी सफलता, गोपालगंज का कुख्यात गिरफ्तार

रिपोर्ट— राजेश तिवारी देवरिया के एसओजी टीम को बड़ी सफलता मिली है। दरअसल, गोपालगंज के नया गांव निवासी राजन शाह को गिरफ्तार किया गया है। राजन शाह के पास से तमंचा व एक जिंदा कारतूस बरामद किया गया है। इसके अलावा लूटी गयी बाइक और मोबाईल फोन भी बरामद हो गया है। आरोपी ने बताया कि 4 सितंबर को ग्राम रहीमपुर के पास से कट्टे के बल पर मोटरसाईकिल, मोबाईल लूट लिये गये थे। आरोपी पर सीवान में मुकदमा दर्ज है और वह जेल की हवा खा चुके हैं. बरामदगी का विवरणः- 01.एक अदद लूट की मोटरसाईकिल UP 52 BE 2667 02.लूट की एक मोबाईल फोन, 03.एक अदद देशी तमंचा एवं एक अदद कारतूस। गिरफ्तार अभियुक्त का विवरणः- 01.राजन शाह पुत्र बलिराम शाह निवासी-नया गाॅव थाना हथुवाॅ जनपद गोपालगंज (बिहार)। गिरफ्तार करने वाली टीम का विवरणः- 01.निरीक्षक गिरिजेश तिवारी प्रभारी एसओजी टीम देवरिया, 02.उ0नि0 अनिल कुमार यादव एसओजी ट
खत्म हुआ 28 साल का इंतजार, बाबरी में आडवाणी—जोशी समेत सभी बरी

खत्म हुआ 28 साल का इंतजार, बाबरी में आडवाणी—जोशी समेत सभी बरी

अयोध्या में छह दिसंबर 1992 को गिराए गए विवादित ढांचे के मामले में सीबीआई की विशेष कोर्ट ने बुधवार को फैसला सुनाया। अदालत ने इस मामले में भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह, उमा भारती, विनय कटियार समेत सभी 32 आरोपियों को साक्ष्य के अभाव में बरी कर दिया है। 28 साल से चल रहे इस मुकदमे का विशेष जज एस.के. यादव ने अपने कार्यकाल का अंतिम फैसला सुनाते हुए कहा कि अयोध्या विध्वंस पूर्व नियोजित नहीं था। घटना के प्रबल साक्ष्य नही हैं। न्यायालय ने यह माना है कि सीबीआई द्वारा लगाए गए आरोपों के खिलाफ ठोस सबूत नहीं हैं। कुछ अराजक तत्वों ने इस कार्य को अंजाम दिया था। सीबीआई कोर्ट के विशेष जज एस.के. यादव ने अपने फैसले में कहा कि छह दिसंबर, 1992 को अयोध्या में विवादित ढांचा पर पीछे से दोपहर 12 बजे पथराव शुरू हुआ। अशोक सिंघल ढांचे को सुरक्षित रखना चाह
मोदी सरकार ने बताया— बिहार समेत 12 राज्यों में सक्रिय है इस्लामिक स्टेट

मोदी सरकार ने बताया— बिहार समेत 12 राज्यों में सक्रिय है इस्लामिक स्टेट

सुन्नी जिहादियों के समूह इस्लामिक स्टेट ने हाल के वर्षों में 12 भारतीय राज्यों में अपना आधार स्थापित किया है। ईरान और सीरिया स्थित आतंकवादी संगठन केरल, कर्नाटक, आंध्रप्रदेश, तेलंगाना, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, राजस्थान, बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और जम्मू कश्मीर में सबसे ज्यादा सक्रिय है। इस्लामिक स्टेट (आईएसआईएस) ने 2014 के बाद से सीरिया और इराक के अधिकांश हिस्सों पर नियंत्रण स्थापित कर लिया है और बांग्लादेश, माली, सोमालिया और मिस्र जैसे देशों में उसकी शाखाएं हैं। लश्कर-ए-तैयबा और अल-कायदा जैसे अन्य आतंकी संगठनों के साथ उसके संबंध हैं। भारत में अपनी विचारधारा को फैलाने के लिए आईएस इंटरनेट आधारित विभिन्न सोशल मीडिया मंचों का इस्तेमाल कर रहा है। समूह में शामिल होने वाले विभिन्न राज्यों के व्यक्तियों के कई उदाहरण केंद्रीय और राज्य सुरक्षा एजेंसियों की नजर में आए
रघुवंश प्रसाद: समाजवाद का बरगद जिसने मनरेगा जैसी योजना की नींव रखी

रघुवंश प्रसाद: समाजवाद का बरगद जिसने मनरेगा जैसी योजना की नींव रखी

समाजवाद के आखिरी बरगद और बिहार के सबसे बड़े सादगी वाले नेता रघुवंश प्रसाद सिंह का रविवार को निधन हो गया। वो इलाज के लिए दिल्ली के एम्स में भर्ती थे। तबीयत अचानक बिगड़ने के बाद उनका निधन हो गया। वो 74 साल के थे। उन्हें पिछले दिनों कोरोना संक्रमण हुआ था। वो फेफड़े में इंफेक्शन से जूझ रहे थे। तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें दो दिन पहले वेंटीलेटर पर रखा गया था। उन्हें करीब एक सप्ताह पहले एम्स के आईसीयू में भर्ती कराया गया था। उन्हें जून के महीने में कोरोना संक्रमण हुआ था जिसके बाद भी उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया था। तब वो ठीक हो गए थे। वो बिहार के एक बड़े नेता माने जाते थे। हाल ही में उन्होंने राजद से इस्तीफा दिया था। उन्होंने एम्स से ही अपना इस्तीफा राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद को लिखा था। हालांकि लालू प्रसाद ने उनका इस्तीफा स्वीकार नहीं किया था। और कहा था कि वो कहीं नहीं जा रहे। इसके ब
चुनाव में उम्मीदवार की मुसीबत! टीवी या अखबार में विज्ञापन देकर बताएंगे आपराधिक रिकॉर्ड

चुनाव में उम्मीदवार की मुसीबत! टीवी या अखबार में विज्ञापन देकर बताएंगे आपराधिक रिकॉर्ड

चुनाव आयोग ने दागी छवि के उम्मीदवारों के बारे में जनता को जागरूक करने के लिए नए दिशा-निर्देश जारी किए हैं। प्रत्याशियों और उनके राजनीतिक दलों को अखबारों और टीवी चैनलों पर तीन बार विज्ञापन देकर आपराधिक ब्यौरा बताना होगा। चुनाव आयोग की शुक्रवार को हुई बैठक के बाद इस बारे में नए दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। दरअसल, चुनाव आयोग की ओर से आपराधिक छवि के उम्मीदवारों पर दर्ज मुकदमों के ब्यौरे को विज्ञापन के रूप में प्रचारित करने के लिए इससे पूर्व दस अक्टूबर 2018 और छह मार्च 2020 के निर्देश जारी किए थे। इस सिलसिले में शुक्रवार को हुई बैठक में कुछ नए दिशा-निर्देश तय किए गए हैं। ताकि दागी प्रत्याशियों के आपराधिक मामलों से जनता को जागरूक करने का तंत्र और कारगर हो। नए निर्देशों के मुताबिक, प्रत्याशी को पहली बार नामांकन वापसी की अंतिम तारीख के चार दिन के अंदर अपने ऊपर दर्ज आपराधिक मामलों का विज
योगी सरकार में दलित, मुस्लिम, ब्राम्हणों का हो रहा उत्पीड़न

योगी सरकार में दलित, मुस्लिम, ब्राम्हणों का हो रहा उत्पीड़न

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने उत्तर प्रदेश सरकार पर निशाना साधा और कहा कि सपा सरकार में जिस तरह ब्राह्मणों व दलितों का चुन-चुन कर उत्पीड़न किया गया था, अब वैसे ही भाजपा सरकार में इनके साथ-साथ मुसलमानों का भी काफी उत्पीड़न किया जा रहा है। मायावती ने शुक्रवार को ट्विटर के माध्यम से लिखा, "सपा सरकार में जैसे ब्राह्मणों व दलितों का चुन-चुन कर उत्पीड़न किया गया था तो अब वैसे ही वर्तमान भाजपा सरकार में भी इनके साथ-साथ मुसलमानों का भी काफी उत्पीड़न किया जा रहा है। इनको जबरन् गलत मामलों में फं साया जा रहा है, जो अति दु:खद है। उन्होंने आगे लिखा, "जिस प्रकार से सपा सरकार में दलितों के मसीहा बाबा साहेब डॉ. भाीमराव अम्बेडकर व इनके महान् सन्तों व गुरुओं की मूर्ति तोड़ी गई तथा उनके नाम पर रखे गये जिलों व संस्थानों आदि के नाम भी बदल दिये गए, ठीक उसी प्रकार से अब वर्तम
लोजपा का वो नारा जिसने बिहार की सियासत में भूचाल मच गया है

लोजपा का वो नारा जिसने बिहार की सियासत में भूचाल मच गया है

बिहार में इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर अब तक चुनाव आयोग ने भले ही तिथियों की घोषणा नहीं की है लेकिन, राजनीतिक दल अपनी रणनीतियों को सरजमीं पर उतारकर खुद को बेहतर साबित करने में जुट गए हैं। इस बीच, राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में सबु कछ ठीक नहीं चल रहा है। लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) ने शुक्रवार को यहां के करीब सभी समाचार पत्रों में एक पेज का विज्ञापन प्रकाशित किया। इसमें अपने संकल्प को दोहराते हुए सभी राजनीतिक दलों को आड़े हाथों लिया गया है, वहीं इसे लेकर हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के प्रमुख जीतन राम मांझी ने चिराग पासवान को ललकारा है। लोजपा के विज्ञापन में लिखा है, आओ बनाएं नया बिहार, युवा बिहार, चलो चलें युवा बिहारी के साथ। लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान अपने अधिकारिक ट्विटर हैंडल में भी अपने नाम के आगे 'युवा बिहारी' जोड़े हुए हैें। इससे पहले भी पासवान 'बिहार फ र्स्
एक्शन मोड में चुनाव आयोग, बिहार विधानसभा के साथ 64 सीटों पर होंगे उपचुनाव

एक्शन मोड में चुनाव आयोग, बिहार विधानसभा के साथ 64 सीटों पर होंगे उपचुनाव

चुनाव आयोग ने शुक्रवार को घोषणा की कि बिहार विधानसभा चुनाव के साथ ही विभिन्न राज्यों में 64 विधानसभाओं और एक लोकसभा सीट के लिए उपचुनाव भी कराए जाएंगे। चुनाव की तारीखों का एलान बाद में किया जाएगा। मध्य प्रदेश विधानसभा की भी 27 सीटें रिक्त है। इसका मतलब है कि राज्य के उपचुनाव भी बिहार विधानसभा चुनाव के साथ ही होंगे। चुनाव आयोग ने एक बयान में कहा कि विभिन्न राज्यों में उपचुनाव कराने के संबंध में शुक्रवार को एक बैठक आयोजित की गई थी। आयोग ने कहा कि विधानसभा और संसदीय निर्वाचन क्षेत्रों में 65 सीटें रिक्त हैं, जिनमें से 64 विधानसभा की जबकि एक सीट लोकसभा की खाली है, जहां उपचुनाव कराए जाने हैं। आयोग ने कहा कि इसने संबंधित राज्यों के मुख्य सचिवों या मुख्य निर्वाचन अधिकारियों से रिपोर्ट और इनपुट पर चर्चा की, जिसमें कुछ राज्यों में सामान्य से अधिक बारिश और अन्य बाधाओं सहित कई कारकों के मद्द
ब्राह्मणों के बंदूक लाइसेंस पर योगी सरकार ने मांगी जानकारी

ब्राह्मणों के बंदूक लाइसेंस पर योगी सरकार ने मांगी जानकारी

बीजेपी के एक विधायक ने उत्तर प्रदेश विधानसभा से ब्राह्मण जाति के लोगों के 'मारे जाने', उनकी असुरक्षा और बंदूक के लाइसेंस के आँकड़ों को लेकर एक सवाल पूछा था. इसके जवाब में उत्तर प्रदेश सरकार ने सभी ज़िलों के डीएम को एक 'असमान्य' पत्र लिखा और पूछा है कि कितनी संख्या में ब्राह्मणों ने हथियारों के लाइसेंस के लिए आवेदन किए हैं. इंडियन एक्सप्रेस अख़बार के अनुसार डीएम को लिखे पत्रों पर राज्य सरकार के गृह विभाग के अवर सचिव प्रकाश चंद्र अग्रवाल के हस्ताक्षर हैं. ये पत्र 18 अगस्त को भेजे गए थे और इन पर 21 अगस्त तक विस्तार में जवाब में मांगा था. अख़बार का कहना है कि अग्रवाल ने इस पर कोई भी प्रतिक्रिया देने से इनकार कर दिया है. इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार उससे एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा है कि इसे लेकर सरकार फिर बहुत सक्रिय नहीं रही और क़दम पीछे खींच लिए. हालांकि एक ज़िले के डीएम ने पत्र की मांग के
भारत और चीन की सेना में फिर झड़प, सरकार ने जारी किया बयान

भारत और चीन की सेना में फिर झड़प, सरकार ने जारी किया बयान

भारत और चीन के सैनिकों के बीच एक बार फिर बॉर्डर पर झड़प हुई है। भारत सरकार ने सोमवार को कहा कि चीन सैनिकों ने पूर्वी लद्दाख में सीमा पर बनी सहमति का उल्लंघन किया है। सरकार ने कहा है कि चीनी सैनिकों ने उकसाऊ क़दम उठाते हुए सरहद पर यथास्थिति बदलने की कोशिश की लेकिन भारतीय सैनिकों ने उन्हें रोक दिया। i भारतीय सेना के बयान को पीआईबी की ओर से जारी किया गया है। बयान के अनुसार, ''भारतीय सैनिकों ने पंन्गोंग त्सो लेक में चीनी सैनिकों के उकसाऊ क़दम को रोक दिया है। भारतीय सेना संवाद के ज़रिए शांति बहाल करने का पक्षधर है लेकिन इसके साथ ही अपने इलाक़े की अखंडता की सुरक्षा के लिए भी प्रतिबद्ध है. पूरे विवाद पर ब्रिगेड कमांडर स्तर पर बैठक जारी है।''
error: Content is protected !!