townaajtak@gmail.com

गोपालगंज का वो चर्चित गैंगस्टर जिसे दिल्ली पुलिस ने किया गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने बिहार पुलिस के साथ मिलकर बिहार के गुख्यात गैंगस्टर आदित्य तिवारी को रजोकरी फ्लाईओवर, गुरुग्राम-कापसहेड़ा लिंक रोड से गिरफ्तार कर लिया है। इसके पास से एक सेमी आटोमेटिक पिस्टल व पांच कारतूस बरामद किए गए हैं। गोपालगंज व पटना समेत आसपास के जिले यह हत्या, लूटपाट, डकैती, रंगदारी मांगने व हत्या के प्रयास के 16 मामले में वांछित था।

बिहार पुलिस की तरफ से इसपर 50 हजार का इनाम था। पुलिस का दबाव बढ़ने पर यह पांच महीना पहले छिपने के लिए बिहार छोड़कर दिल्ली आ गया था। यहां दिल्ली-एनसीआर में नाम बदलकर यह अलग-अलग जगहों पर किराए परघर लेकर छिपता रहा। आदित्य व इसके सहयोगी मनीष का गोपालगंज में खासा आतंक है।

डीसीपी स्पेशल सेल प्रमोद सिंह कुशवाहा के मुताबिक 24 वर्षीय आदित्य तिवारी गोपालगंज जिले का रहने वाला है। इसके खिलाफ हत्या, हत्या के प्रयास, पुलिसकर्मियाें पर हमले, लूटपाट, डकैती, फिरौती के लिए अपहरण व रंगदारी मांगने के 26 मामले दर्ज हैं, जिनमें 16 मामले को इसने पांच महीने में अंजाम दिया था।

पांच महीना पहले आदित्य व मनीष ने गोपालगंज के एक अस्पताल मालिक से 20 लाख रंगदारी मांगी थी। रंगदारी देने से डाक्टर ने मना कर दिया था और पुलिस में शिकायत करा दी थी। अनहोनी को देखते हुए एसपी गोपालगंज ने डाक्टर को सुरक्षा प्रदान कर दी गई थी। इसके बावजूद आदित्य व मनीष ने अपने गुर्गे के साथ दिनदहाड़े अस्पताल पर धाबा बोल दिया था।

पुलिसकर्मियों की उपस्थिति में एके-47 व कार्बाइन से अंधाधुन गोलियां चला 4 हेंडग्रेनेड भी फेेके थे। उक्त घटना के बाद बिहार पुलिस ने जब इनपर दबाव बनाया तब दोनों बिहार छोड़ फरार हो गए थे। दिल्ली में रहकर ये बिहार के व्यापारियों व अमीर लोगों को वायस मैसेेज भेजकर उन्हें धमकी देकर रंगदारी मांग रहे थे। इसने गोपालगंज में खुद एक अस्पताल खोल रखा है। भोपाल के एक नामी इंस्टीट्यूट से यह मेडिकल की डिग्री लेना चाह रहा है।

Sharing is caring!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!