townaajtak@gmail.com

Month: June 2020

रेल यात्रियों को राहत, तत्काल टिकटों की बुकिंग फिर हुई बहाल

रेल यात्रियों को राहत, तत्काल टिकटों की बुकिंग फिर हुई बहाल

भारतीय रेलवे ने 29 जून से सभी 230 विशेष ट्रेनों के लिए तत्काल टिकटों की बुकिंग बहाल कर दी है। कोरोनवायरस वायरस महामारी के मद्देनजर इस सेवा को रोक दिया गया था। रेलवे ने 25 मार्च से देशव्यापी लॉकडाउन के दौरान पैसेंजर, मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों के परिचालन को निलंबित कर दिया था। रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यहां कहा कि जनता को 31 मई को अवगत करा दिया गया था कि 29 जून से सभी विशेष ट्रेनों में तत्काल टिकट की सुविधा का लाभ उठाया जा सकता है। उन्होंने कहा, "मंगलवार से शुरू होने वाली ट्रेनों के लिए सोमवार को तत्काल बुकिंग की गई।" तत्काल टिकट बुकिंग यात्रा की तिथि से एक दिन पहले एसी सीट के लिए सुबह 10 बजे और स्लीपर क्लास की सीटों के लिए सुबह 11 बजे से की जाती है। पिछले महीने 200 जोड़ी विशेष ट्रेनें चलाने से पहले, रेलवे ने रेलवे स्टेशन के आरक्षण काउंटरों पर 30 दिवसीय एडवांस बुकिंग फ
टिकटॉक पर आम से खास ही नहीं, भारत सरकार भी मौजूद थी..

टिकटॉक पर आम से खास ही नहीं, भारत सरकार भी मौजूद थी..

इस लेख को सुधीर तिवारी ने लिखा है.. भारत सरकार ने एक बड़ा कदम उठाते हुए देश में 59 ऐप को बैन कर दिया है। इस ऐप्स में टिकटॉक भी शामिल है। चीन से तनाव के बीच सरकार के इस फैसले को मास्टर स्ट्रोक बताया जा रहा है। लेकिन क्या आपको पता है कि टिकटॉक पर सिर्फ आम या खास लोग ही नहीं थे, इस चाइनीज ऐप पर सरकार भी मौजूद थी। जी हां, सरकारी प्रेस ब्यूरो पीआईबी के अलावा माय गर्वेेमेंट के नाम से आधिकारिक टिकटॉक अकाउंट था। इस टिकटॉक अकाउंट पर लगातार वीडियो शेयर किए जा रहे थे। हालांकि, माय गवर्मेंट अकाउंट को अब सरकार ने टिकटॉक से हटा दिया है लेकिन खबर लिखे जाने तक पीआईबी का अकाउंट टिकटॉक पर था। क्या कहा सरकार ने सरकार की ओर से जारी आदेश के अनुसार, सरकार उन 59 मोबाइल ऐप पर बैन लगा दिया जो भारत की संप्रभुता और अखंडता, भारत की रक्षा, राज्य की सुरक्षा और सार्वजनिक व्यवस्था के लिए पूर्वाग्रहपूर्ण थे।
बेरोजगारी के दौर में अब चाइनीज ऐप भी भारत से समेटेंगे अपना कारोबार

बेरोजगारी के दौर में अब चाइनीज ऐप भी भारत से समेटेंगे अपना कारोबार

ये लेख सुधीर तिवारी ने लिखा है भारत सरकार ने चीन के लोकप्रिय ऐप टिकटॉक समेत 59 चाइनीज ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया है। टिकटॉक के अलावा जिन अन्य लोकप्रिय ऐप को बैन का सामना करना पड़ा है उनमें शेयरइट, हैलो, यूसी ब्राउजर, लाइकी और वीचैट समेत कुल 59 ऐप भी शामिल हैं। चीन से तनाव के बीच सरकार के इस फैसले का सोशल मीडिया पर स्वागत किया जा रहा है। वहीं, इसका दूसरा पक्ष देश में रोजगार से जुड़ा है। जी हां, टिकटॉक समेत 59 ऐप के बंद हो जाने का मतलब ये है कि अब देश से आॅपरेट कर रही इनमें अधिकतर कंपनियां अपना कारोबार समेटेंगी। जाहिर सी बात है कि कारोबार समेटने की स्थिति में वो भारतीय बेरोजगार होंगे जो इन कंपनियों में अब तक नौकरी कर रहे थे। उदाहरण के तौर पर यूसी ब्राउजर की बात करें तो यह देश में प्रचलित सबसे बड़ा एग्रीगेटर ऐप था। एग्रीगेटर ऐप का मतलब ये हुआ कि इस पर हर तरह की खबरें और हर मीडिया संस्थ
नीतीश सरकार के मंत्री और उनकी पत्नी को हुआ कोरोना, मचा हड़कंप

नीतीश सरकार के मंत्री और उनकी पत्नी को हुआ कोरोना, मचा हड़कंप

बिहार में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 60 के आंकड़े को पार कर गई है तो वहीं अब तक करीब 9 हजार लोग पॉजिटिव पाए गए हैं। इस बीच, बिहार में नीतीश सरकार के कैबिनेट मंत्री और उनकी पत्नी को कोरोना हो गया है। मीडिया में बताया गया है कि कोरोना पॉजिटिव वाला मामला मंत्री विनोद सिंह और उनकी पत्नी में मिला है। विनोद कुमार सिंह कटिहार के प्राणपुर से विधायक हैं और नीतीश सरकार में पिछड़ा अतिपिछड़ा कल्याण मंत्री हैं। दोनों पति-पत्नी को इलाज के लिए कटिहार मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। इससे पहले बिहार में राजद के कद्दावर नेता रघुवंश प्रसाद सिंह और पूर्व सांसद पुतुल कुमारी समेत बीजेपी के एक विधायक भी कोरोना के चपेट में आ चुके हैं। हालांकि इनमें से रघुवंश प्रसाद सिंह नौ दिनों में ही कोरोना को मात देकर घर लौट चुके हैं।
सीवान में 400 के पार हुई कोरोना मरीजों की संख्या, सावधान रहे, सतर्क रहें

सीवान में 400 के पार हुई कोरोना मरीजों की संख्या, सावधान रहे, सतर्क रहें

बिहार में कोरोना मरीजों की संख्या अब भयावह स्तर पर पहुंच गई है। बिहार में कोरोना पॉजिटिव मामले 8850 के पार पहुंच गया है। वहीं, बिहार के सीवान जिले में कोरोना मरीजों की संख्या 400 के पार पहुंच गई है। सीवान वही जिला है, जहां शुरुआती दिनों में एक साथ 22 मामले मिले थे। इस मामले के बाद सीवान को कोरोना हॉटस्पॉट करार दिया गया था। लेकिन इसके बाद आंकड़ें धीरे—धीरे बढ़ते चले गए। अब आंकड़े खतरनाक मोड़ पर पहुंच गए हैं। सीवान में 400 के आंकड़े पार कर गए हैं तो वहीं अब तक 2 लोगों की मौत हुई है। सीवान के माहौल को देखें तो यहां कोरोना का खतरा बढ़ता जा रहा है। दरअसल, भीड़भाड़ पहले की तरह दिखने लगी है। वहीं शहर से लेकर देहात तक हर जगह सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ रही हैं। इस पर प्रशासन मूक नजर आ रहा है।  बिहार में सबसे ज्यादा मामले पटना में हैं। पटना में मामले 500 के पार पहुंच गए हैं। जबकि सीवान
बिहार: कोरोना से जितनी मौत नहीं हुई, उससे ज्यादा आकाशीय बिजली ने ली जान

बिहार: कोरोना से जितनी मौत नहीं हुई, उससे ज्यादा आकाशीय बिजली ने ली जान

बिहार में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या अभी 56 है। लेकिन आकाशीय बिजली की वजह से मरने वालों की संख्या 83 हो गई है। अहम बात ये है कि ये 83 मौत सिर्फ एक दिन की बारिश में हो गई है। बिहार के लिए ये किसी त्रासदी से कम नहीं है। आकाशीय बिजली से मरने वालों में सबसे ज्यादा गोपालगंज के लोग हैं। गोपालगंज में कुल 13 लोगों के मारे जाने की खबर है। वहीं, सीवान में कुल 6 लोगों की मौत आकाशीय बिजली की वजह से हो गई है।  इसी तरह, मधुबनी और नवादा में 8—8 लोग वज्रपात के शिकार हो गए हैं।   इस बीच मौसम विभाग ने बिहार के लिए 72 घंटे का अलर्ट जारी किया है. मौसम विभाग में बिहार में अगले 72 घंटे में भारी बारिश होने को लेकर आज गुरुवार को अलर्ट जारी किया। मौसम विभाग की ओर से जारी इस अलर्ट में पूरे प्रदेश में अत्यंत भारी बारिश की चेतावनी दी गई है। वहीं, इस हादसे पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार न
15 दिन में करीब 9 रुपये महंगा हो गया पेट्रोल, लगातार बढ़ी कीमत!

15 दिन में करीब 9 रुपये महंगा हो गया पेट्रोल, लगातार बढ़ी कीमत!

राष्ट्रीय राजधानी में डीजल की कीमत लगातार 15 दिनों तक बढ़ने के बाद रविवार को यह एक नए सर्वोच्च स्तर पर पहुंच गई है। दिल्ली में रविवार को 60 पैसे की बढ़ोतरी के साथ डीजल 78.27 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है। सात जून को 80 दिनों के बाद दैनिक मूल्य संशोधन के लिए गतिशील मूल्य निर्धारण प्रणाली फिर से शुरू हुई, जिसके बाद से राष्ट्रीय राजधानी में डीजल की कीमत में 8.88 रुपये प्रति लीटर की वृद्धि हुई है। इस बढ़ोतरी के साथ, पेट्रोल और डीजल की कीमतों के बीच का अंतर अपने सबसे निचले स्तर पर आ गया है। दिल्ली में डीजल की कीमत पेट्रोल की कीमत से महज एक रुपये से भी कम है। ईंधन दरों में वृद्धि महानगरों में समान रही है। मुंबई, चेन्नई और कोलकाता में डीजल क्रमश: 76.69 रुपये, 75.80 रुपये और 73.61 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है, जबकि पिछली कीमत क्रमश: 76.11 रुपये, 75.29 रुपये और 73.07 रुपये थी। पेट्र
सीवान की मेघा, अब नेवी में बन गई ये अधिकारी

सीवान की मेघा, अब नेवी में बन गई ये अधिकारी

बिहार के टैलेंट का लोहा दुनिया मानती है। बिहार के बेटे या बेटियां देश—दुनिया में परचम लहरा रहे हैं। इनकी सफलता की कहानियां समय—समय पर आ ही जाती हैं। अब सीवान जिले की बेटी की सफलता ने सुर्खियां बटोरी है। दरअसल, सीवान के महम्मदपुर गांव की बेटी मेघा सिंह ने नेवी में सब लेफ्टिनेंट बनकर जिले का भी नाम रोशन किया है। वह महम्मदपुर निवासी रामजी सिंह की पोती तथा कमांडर दिलीप कुमार सिंह की पुत्री है। मेघा  के पिता दिलीप सिंह गोवा के करवार में नेवी में कमांडर के पद पर कार्यरत हैं। उनकी बड़ी पुत्री दीपिका की शादी हो चुकी है। छोटी पुत्री मेघा सिंह केरल के कोच्चि से मैट्रिक, मुंबई से इंटरमीडिएट एवं स्नातक की परीक्षा पास की। मेघा ने मुंबई के वर्तक कॉलेज ऑफ इंजीनियरिग से बीटेक किया। वह सब लेफ्टिनेंट के पद पर चयनित होकर सोमवार से केरल के कोच्चि में ट्रेनिग कर रही हैं। उसकी सफलता की खबर उसके पैतृक गांव
परवीन बॉबी से सुशांत सिंह तक, पैटर्न एक ही है…

परवीन बॉबी से सुशांत सिंह तक, पैटर्न एक ही है…

मुझे यहां सब कुछ चांदी की प्लेट में सजा हुआ मिला, मगर सबके साथ ऐसा नहीं है.. परवीन मेरी डार्लिंग है, उसे जबर्दस्त शोषण से गुजरना पड़ा.. भावुक हेमा मालिनी ने ये बातें तब कही जब परवीन बॉबी अचानक देश छोड़कर चली गई थीं. ये वही वक्‍त था जब परवीन बॉबी का करियर चरम पर था. परवीन बॉबी वो सबकुछ कर रही थीं, जो अपनी चाहत, आधुनिकता और आत्मनिर्भरता के नाम पर महिलाएं आज करना चाहती हैं. लेकिन मिडिल क्‍लास परिवार की लड़की परवीन बॉबी के अंदर इतना खोखलानपन था कि खुद को अकेला महसूस करती थीं. परवीन बॉबी ने अपने अकेलेपन के बारे में कई बार खुलकर बात की थी. उन्‍होंने 'द इलस्ट्रेटेड वीकली ऑफ इंडिया' में अपना एक संस्मरण लिखा था - " मैं ये जान गई हूं कि यहां बने रहने का अपना संघर्ष है, इसके अपने दबाव और चुनौतियां हैं. मैं इसमें इतनी धंस चुकी हूं कि मुझे अब इसे झेलना ही होगा." एक वक्‍त ऐसा भी आया जब वह मानिसक बीम
सीवान: चुनाव से पहले BJP का बड़ा दांव, लिया ये फैसला

सीवान: चुनाव से पहले BJP का बड़ा दांव, लिया ये फैसला

इस साल के अंत तक ये तय हो जाएगा कि बिहार में किस राजनीतिक दल की सरकार बनेगी। दरअसल, अक्‍टूबर-नवंबर तक बिहार में विधानसभा चुनाव होने की उम्‍मीद जताई जा रही है। इस चुनाव की तैयारियां भी शुरू हो चुकी हैं। बीजेपी के पूर्व अध्‍यक्ष अमित शाह ने तो वर्चुअल रैली के जरिए चुनावी बिगुल भी फूंक दी है। इस बीच, बिहार के सीवान जिले में बीजेपी ने बड़ा फैसला लिया है। दरअसल, सीवान बीजेपी ने अपने नए कार्यालय में एक कार्यक्रम आयोजित किया। इस कार्यक्रम में युवा बीजेपी ने कई मंडल अध्यक्ष नियुक्त किए हैं। बीजेपी ने अगामी चुनाव को देखते हुए अपने युवा कार्यकर्ताओं को भिन्न-भिन्न क्षेत्रों में जिम्मेदारी दी है। इस दौरान सीवान बीजेपी के युवा मोर्चा अध्यक्ष हैप्पी यादव ने कहा कि आज का युवा चुनाव के पुराने पैटर्न जातिगत राजनीति में विश्वास अब नहीं कर रहा है। युवा विकास पसंद वर्ग है। हैप्‍पी यादव ने मौजूद
error: Content is protected !!